उत्तर प्रदेश

UP: कुएं में गिरे बछड़े को बचाने उतरे 5 लोग, मौत

UP: 5 people landed to save the calf that fell in the well

गोंडा. उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में मंगलवार 8 सितम्बर को एक बड़ा हादसा हुआ. यहां नगर कोतवाली क्षेत्र में एक कुएं में गिरे बछड़े को बचाने उतरे एक ही परिवार के चार लोगों समेत पांच की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि कुएं से जहरीली गैस का रिसाव हो रहा था, जिसकी चपेट में आकर एक के बाद एक की मौत हो गई. हादसे की खबर पाकर डीएम, एसपी व अन्य फोर्स मौके पर पहुंची है. नगर पालिका कर्मियों की मदद से कुएं से शवों को बाहर निकाल लिया गया है.

महाराजगंज मोहल्ले में एक देव स्थान है. उसके बगल में कुआं है. इस देव स्थान पर लोग पूजा पाठ करते हैं. कुएं में लोग कूड़ा भी फेंक देते हैं. मंगलवार की दोपहर एक बछड़ा कुएं में गिरा दिखाई दिया. इसे बचाने के लिए आसपास के लोग कुएं के पास जुटे. बछड़े को निकालने के लिए पहले 28 साल का विष्णु कुएं में उतरा. जिसकी मदद से बछड़े को बाहर निकाल लिया गया.

कुछ देर बाद अचानक युवक डूबने लगा. उसे बचाने के लिए एक-एक कर चार अन्य कुएं में उतर गए, लेकिन, सभी डूबने लगे और शोर मचाया तो लोगों को हादसे की जानकारी हुई. तत्काल पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस ने फायर ब्रिगेड और नगर पालिका की टीम बुलाकर रेस्क्यू शुरू किया, लेकिन तब तक पांचों की मौत हो चुकी थी. मृतकों की शिनाख्त विष्णु (28), वैभव (25), छोटू (35), रिंकू (32) व पोर्टरगंज निवासी मोनू सैनी के रूप में हुई है. छोटू और रिंकू सगे भाई हैं और विष्णु और वैभव पटीदार (रिश्तेदार) हैं.

अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र सिंह ने बताया कि राजा मोहल्ला में एक कुएं में एक बछड़ा गिर गया था. बछड़े को बाहर निकाल लिया गया था. लेकिन कुएं में उतरा व्यक्ति बाहर नहीं निकला तो दूसरा व्यक्ति कुएं में दाखिल हुआ. इस तरह एक के बाद एक पांच लोगों की कुएं में उतरे से मौत हुई है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close