उत्तर प्रदेश

भाजपा नेता की संदिग्ध हालत में मौत, हत्या की आशंका

बागपत: उत्तर प्रदेश में बागपत जिले में बड़ौत के बिजरौल रोड निवासी भाजपा नेता व पूर्व प्रधानाचार्य डा आत्मराम तोमर की गुरुवार की देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उनके गले पर तौलिया लिपटा मिलने व उनकी स्कॉर्पियो गाड़ी गायब होने के कारण हत्या की आंशका भी जताई जा रही है।

इस घटना की सूचना पर क्षेत्र में सनसनी फैल गई, वहीं पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। सूचना पर एसपी, एएसपी सहित पुलिस के आला अधिकारी व डॉग स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंची और जांच में जुट गए।

आत्मराम लड़ चुके थे विधानसभा चुनाव

छपरौली से विधानसभा चुनाव लड़ चुके भाजपा नेता व जनता वैदिक इंटर कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य डॉ. आत्मराम तोमर पुत्र स्वर्गीय भरत सिंह तोमर (75) मूलरूप से बिजरौल गांव के रहने वाले थे। फिलहाल वे नगर की बिजरौल रोड पर रह रहे थे। देर रात उनकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

इसकी सूचना पर क्षेत्र में सनसनी फैल गई। वहीं पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। सूचना पर कोतवाली प्रभारी रवि रत्न सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटनाक्रम की जांच की तो डॉ. आत्मराम तोमर की स्कॉर्पियो गाडी भी गायब मिली।

साथ ही उनके गले में तौलिया भी लिपटा मिला। इससे उनकी हत्या की भी आंशका जताई जा रही है। देर रात एसपी नीरज जादौन, एएसपी मनीष मिश्र, सीओ आलोक कुमार भी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली, इसके बाद डॉग स्क्वायड की टीम को घटनास्थल पर बुलाया गया।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए दो व्यक्ति

आस-पास रहने वाले लोगों से पूछताछ की गई। साथ ही आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले गए। पुलिस के अनुसार घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में दो युवक आते हुए और फिर गाड़ी लेकर जाते हुए दिखाई दे रहे हैं। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है।

उधर, भाजपा नेता आत्माराम तोमर के परिजनों ने हत्या होने की बात कही है। सूचना पर मृतक डॉ. आत्मराम तोमर का बेटा डॉ. प्रताप भी मौके पर पहुंचा। फिलहाल मौत या फिर हत्या का कारण पता नहीं चल सका है।

वहीं घटना के बाद परिजनों में भी कोहराम मच गया। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अभी मामले की जांच हो रही है, उसके बाद ही स्तिथि स्पष्ट होगी।
Source: Agency

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close