जम्मू कश्मीर

जम्मू में नोवेल कोरोना वायरस का पहला मामला

श्रीनगर

जम्मू में एक 63 वर्षीय महिला में नोवल कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। यह महिला ईरान की यात्रा कर चुकी है। यह महिला उन दो रोगियों में शामिल है, जिन्‍हें जम्‍मू प्रशासन ने पिछले सप्‍ताह के अंत में उच्च वायरल वाला मामला घोषित किया था। इन लोगों का जम्मू के राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में इलाज चल रहा है और इनकी हालत स्थिर बनी हुई है।

स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी के अनुसार दूसरे मरीज की रिपोर्ट अभी नहीं मिली है।

सऊदी अरब से लौटी एक अन्य महिला कल डोडा के राजकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराई गई थी और उसे जांच के लिए अलग वार्ड में रखा गया था। उसके सैंपल जांच के लिए पुणे के राष्ट्रीय वायरोलॉजी संस्थान को भेजे गये हैं।

इन दोनों मरीजों को शनिवार को उच्च संक्रमित मामले घोषित करने के बाद प्रशासन ने केन्द्रशासित प्रदेश के छह जिलों के सभी प्राइमरी स्‍कूल तुरन्त बंद करने की घोषणा की थी। एहतियात के तौर पर बायोमीट्रिक उपस्थिति की व्यवस्था 31 मार्च तक के लिए रोक दी गई है।

जम्मू-कश्मीर में कोविड-19 के किसी भी संभावित संक्रमण से निपटने के लिए अलर्ट घोषित किया गया है। जम्मू में करीब चार सौ लोगों की हालत पर निगरानी रखी जा रही है।

जम्मू-कश्मीर सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल के जम्मू शहर के सतवारी और सरवाल इलाकों के आंगवाड़ी केन्‍द्रों को इस महीने की 31 तारीख तक बंद कर दिया गया है। प्रवक्‍ता ने बताया कि प्रशासन आज से केन्द्रशासित प्रदेश में कोविड-19 जांच के लिए दो प्रयोगशालाएं शुरू कर रहा है। कुछ दिनों में दो और प्रयोगशालाएं शुरू की जायेंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close