छत्तीसगढ़

13 से 28 सितम्‍बर तक पुरावशेषों और बहुमूल्‍य कलाकृतियों का पंजीकरण अभियान

भारत सरकार के संस्‍कृति मंत्रालय के अंतर्गत कार्य करने वाले भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण (ए.एस.आई.), रायपुर मंडल कार्यालय द्वारा 13 से 28 सितम्‍बर, 2019 तक 15 दिनों के लिए पुरावशेषों और बहुमूल्‍य कलाकृतियों का पंजीकरण अभियान चलाया जा रहा है

रायपुर: भारत सरकार के संस्‍कृति मंत्रालय के अंतर्गत कार्य करने वाले भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण (ए.एस.आई.), रायपुर मंडल कार्यालय द्वारा 13 से 28 सितम्‍बर, 2019 तक 15 दिनों के लिए पुरावशेषों और बहुमूल्‍य कलाकृतियों का पंजीकरण अभियान चलाया जा रहा है । यह अभियान ‘पुरावशेषों और बहुमूल्‍य कलाकृति अधिनियम 1972 की धारा 14 के तहत चलाया जा रहा है।

इस अभियान के अंतर्गत कम से कम 100 साल या उससे अधिक पुरानी पुरावशेषों और बहुमूल्‍य कलाकृतियों का पंजीयन कराया जा सकता है । पुरावशेष कलाकृतियों के अंतर्गत पत्‍थर, टेराकोटा (पकाई हुए मिट्टी), धातु, हा‍थी दांत या हड्डी से बनी प्रतिमा, पाण्‍डुलिपि (हस्‍तलिपि) जिनमें किसी भी प्रकार की चित्रकारी या चित्रण किया गया हो, काष्‍ठ में उकेरी गयी प्रतिमा इत्‍यादि का पंजीयन कराया जा सकता है ।

पुरावशेष पंजीकरण के इच्‍छुक व्‍यक्ति, गोविन्‍द सारंग व्‍यावसायिक परिसर, प्रथम तल, न्‍यू राजेन्‍द्र नगर, रायपुर स्थित भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण के रायपुर मंडल कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं । इसके अलावा रायपुर मंडल कार्यालय के दूरभाष क्रमांक- 0771-4218483 पर अथवा ई-मेल आईडी- circlerai.asi@gmail.com और circleraipur.asi@gov.in पर भी संपर्क किया जा सकता है । अधिक जानकारी के लिए ए.एस.आई., रायपुर की वेब साइट- www.asiraipurcircle.in का अवलोकन किया जा सकता है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close