छत्तीसगढ़

सीएम बघेल ने किया कीर्ति चक्र विभूषित शहीद स्वर्गीय विनोद चौबे की प्रतिमा का अनावरण

सीएम भूपेश बघेल ने शहादत की घटना की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से न्यायिक जांच कराने की घोषणा की

बिलासपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बिलासपुर के सिविल थाना के सामने पूर्व पुलिस अधीक्षक कीर्ति चक्र विभूषित शहीद स्वर्गीय विनोद चौबे की प्रतिमा का अनावरण किया। नगर निगम बिलासपुर द्वारा लगभग 45 लाख रूपए की लागत से इस 12 फीट ऊंची प्रतिमा का निर्माण कराया गया है।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर स्वर्गीय विनोद चौबे की देशभक्ति शहादत और जज्बे को नमन करते हुए कहा कि स्वर्गीय चौबे की शहादत की घटना की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से न्यायिक जांच कराई जायेगी। इससे घटना की सच्चाई सामने आयेगी। उन्होंने कहा कि एक साथ 29 जवानों का शहीद होना साधारण घटना नहीं थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि भव्य प्रतिमा निर्माण करवाया गया। जो उनके कद और व्यक्तित्व के अनुकूल है। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय चौबे सरल और अल्पभाषी थे। जब उन्होंने नक्सलियों का शहरी नेटवर्क तोड़ा तब उनके प्रति सम्मान का भाव मन में था। घटना के बाद मदनवाड़ा जाने का अवसर मिला। वहां का दृश्य दर्दनाक था। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह रायपुर आये थे। उस समय से विनोद चौबे को जानता हूँ। मुख्यमंत्री बघेल ने शहीद विनोद चौबे की धर्मपत्नी सहित परिजनों को साल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया।

गृहमंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि राजनांदगांव, कोंडागांव, गरियाबंद एवं कांकेर जिले के जवान शहीद होते रहे हैं। अब नक्सली घटना में कमी आई है। उन्होंने कहा कि शहीद विनोद चौबेे हमेशा सहजता और सरलता से मिलते थे। संसदीय कार्य एवं कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि शहीद विनोद चौबे ने मातृभूमि के प्रति मदनवाड़ा में जो साहस और जज्बा दिखाया, उस शहादत को सलाम करते हैं। उन्होनें नक्सलियों से लोहा लेकर प्राणों की आहुति दी। इससे प्रेरणा मिलती रहेगी। उन्होंने कहा कि मदनवाड़ा घटना की जांच की आवश्यकता है। शहीद विनोद चौबे की धर्मपत्नी श्रीमती रंजना चौबे ने भी संबोधित किया। शहीद चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि शहीद विनोद चौबे के नाम पर बिलासपुर नगर निगम के एक वार्ड का नामकरण किया गया है। उन्होनें मुख्यमंत्री से कहा कि मदनवाड़ा घटना की जांच हेतु जांच कमेटी बनाई जाये। पुलिस जवानों के बच्चों की पढ़ाई के लिये पूर्व में अपहृत विराट के पिता एवं दादी ने 3 लाख रूपए और सीजी फाउंडेशन अकादमी के चेयरमेन प्रिंस भाटिया ने 1 लाख रूपए का चेक मुख्यमंत्री को सौंपा। तत्पश्चात मुख्यमंत्री ने 4 लाख रूपए का चेक शहीद चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष को दिया। इनसे प्रभावित होकर शहीद विनोद चौबे के साले ने 51 हजार रूपए ट्रस्ट को देने की बात कही।

इस मौके पर बिलासपुर विधायक शैलेष पाण्डेय, तखतपुर विधायक श्रीमती रश्मि सिंह, नगर निगम महापौर किशोर राय, पूर्व महापौर श्रीमती वाणी राव, विजय केशरवानी, तैयब हुसैन, अभय नारायण राय, कलेक्टर डॉ. संजय अलंग, पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल सहित पार्षदगण एवं अनेक जनप्रतिनिधिगण और गणमान्य नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close