छत्तीसगढ़

रायपुर: पिछड़ों को 27 प्रतिशत आरक्षण के लिए 5 नवंबर को बसपा देगी धरना

13 नवंबर को ओबीसी महासभा का प्रदेशव्‍यापी महाबंद का अहवान

  • भीम आर्मी सहित कई सामाजिक संगठनों ने आंदोलन को दिया समर्थन

रायपुर: छत्‍तीसगढ़ में अन्‍य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण में वृद्वि की मांग को लेकर प्रदेश में राजनितिक और सामाजिक संगठनों में आंदोलन की चिंगारी दहक रही है। बहुजन समाज पार्टी प्रदेश इकाई ने ओबीसी आरक्षण के समर्थन में 5 नवंबर को प्रदेश स्‍तर धरना प्रदर्शन राजधानी के बु़ढापारा धरना स्‍थल में आयोजित करने जा रही है। बसपा के प्रदेश प्रभारी पूर्व विधायक दाऊराम रत्‍नाकर ने कहा कि मंडल कमीशन को लागू करने सहित पिछड़ों के हक व अधिकार के लिए जनसंख्‍या के अनुपात में आरक्षण के लिए बसपा आंदोलन करते रही है। उन्‍होंने कहा कि भारतीय संविधान में संख्‍या के अनुपात में हिस्‍सेदारी देने का प्रावधान है। लेकिन आजादी के इन 72 वर्षों में पिछड़ों वर्गों के साथ सामाजिक न्‍याय नहीं होने से आर्थिक और शैक्ष‍णिक रुप से आज भी देश की आधी आबादी विकास की मुख्‍य धारा में जुड़ नहीं सकी है।

वहीं भीम आर्मी भारत एकता मिशन छत्तीसगढ़ के द्वारा ओबीसी आरक्षण की मांग का समर्थन करते हुए ओबीसी आंदोलन के तहत छत्तीसगढ़ बंद का समर्थन किया गया है। भीम आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार जांगड़े ने साहू समाज के केड़ार परीक्षेत्र अध्यक्ष चिंता राम साहू को ज्ञापन सौंपा कर सहयोग देने का एलान किया है। समर्थन पत्र सौंपने के दौरान सारंगढ़ के पार्षद सम्मेलाल कुर्रे, जीवन भारती, ग्रामीण क्षेत्र सोशल मीडिया प्रभारी राजेश कुर्रे के साथ भीम सैनिक उपस्थित रहें। शनिवार को राजधानी के कुर्मी भवन में बैठक आयोजित कर आंदोलन को सफल बनाने, पोस्‍टर , पाम्‍पलेट, वाहन, साउंड सिस्‍टम सहित अन्‍य सामाग्रियों के लिए आर्थिक सहयोग के लिए समाज के सभी वर्गों से सहयोग की अपील करने की निर्णय पारित किया गया है।

प्रदेशव्‍यापी बंद को लोकर संयुक्‍त मोर्चा के प्रदेश संयोजक एड.रामकृष्‍ण जांगड़े ने आज कोरबा में पिछड़ा वर्ग समाज के पदाधिकारियों के साथ बैठक आयोजित कर 13 नवंबर को कोरबा जिले में बंद को सफल बनाने की तैयारियों पर चर्चा किया। बैठक में ओबीसी को 27 प्रतिशत, एससी को 16 प्रतिशत और एसटी वर्ग को वनभूमि अधिकार पत्र सहित कई मुद़दों कर समाज के चिंतक व बुद्विजीवियों से सहयोग मांगने पर चर्चा किया गया। छत्‍तीसगढ सर्व पिछड़ा वर्ग, अनुजाति, जनजाति व अल्‍पसंख्‍यक महासभा के आईटी सेल प्रभारी नरेंद्र वर्मा ने बताया कि आंदोलन को छत्‍तीसगढ मानिकपुरी समाज के प्रदेश अध्‍यक्ष ओमप्रकाश मानिकपुरी ने भी समर्थन दिया है। गोड़वाना गणतंत्र पार्टी, मरार समाज, कलार समाज, सोनकर समाज, राजनांदगांव जिले के सर्व आदिवासी समाज के प्रमुख देवनारायण नेताम व संरक्षक संतोष नेताम ने समाज सहित लगभग दो दजर्न सामाजिकसामाजिक संगठनों का समर्थन प्राप्‍त हो गया है। वहीं क्रिश्चियन समाज द्वारा भी आंदोलन को समर्थन करने के लिए 4 नवंबर को बैरन बाजार पास्‍तोरल सेंटर में बैठक आयोजित किया जा रहा है।

ओबीसी आरक्षण को बढ़ाने की मांग को लेकर ओबीसी समाज के विभिन्न संगठनों की बैठक पिछले दिनों रायपुर के साहू सदन टिकरापारा में सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष साहू समाज अर्जुन हिरवानी ने करते हुए ओबीसी महासभा के आह्वान पर आगामी 13 नवंबर को प्रदेशव्‍यापी बंद करने का एलान किया है। आंदोलन को सफल बनाने के लिए सामाजिक संगठनों द्वारा रणनीति बनाने पर सभी जिलों में अलग-अलग संगठनों से समर्थन जुटाने चर्चा का दौर जारी है। आंदोलन को मुकाम तक पहुंचने के लिए 30 अक्टूबर को प्रदेश के सभी संगठन प्रमुखों की एक कर कोर कमेटी का गठन किया गया है। बैठक में अनुसूचित जाति, जनजाति एवं अल्पसंख्यक समुदाय के विभिन्न संगठन प्रमुखों से आरक्षण की मांग को लेकर समर्थन लिया जा रहा है। गौरतलब है कि छत्‍तीसगढ़ सरकार के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा ओबीसी के 14 फीसदी आरक्षण को बढ़ाकर 27 फीसदी कर दिया है। इसके विरोध में सवर्ण समाज द्वारा विरोध करते हुए रोक लगाने की मांग करते हुए हाईकोर्ट में या‍चिका लगाई गई है। हाईकोर्ट ने मामले में फैसले को सुरक्षित करते हुए सभी पक्षों से जवाब मांगा है। ओबीसी आरक्षण में अड़गा लगाने के विरोध में ओबीसी महासंघ ने आंदोलन करने का रास्‍ता अखतियार किया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश साहू संघ अध्यक्ष अर्जुन हिरवानी द्वारा पिछड़ा वर्ग 27 प्रतिशत आरक्षण को समर्थन करते हुए सभी जिला के लिए पत्र प्रेषित किया है 13 नवंबर को छत्तीसगढ़ बंद के समर्थन किया है। ओबीसी समाज के हक और अधिकार की लड़ाई के लिए छग सर्व ओबीसी वर्ग 13 नवम्बर 2019 को प्रदेश व्यापी महाबंद का आवह्वन किया है। आंदोलन को सफल बनाने के लिए धन-बल जुटाने के साथ शक्ति प्रदर्शन किया जा रहा है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close