छत्तीसगढ़

एसआरआई स्कूल के वार्षिकोत्सव “भारतियम” में नवरस के नौ सांस्कृतिक रूपों का नृत्य के जरिये बच्चों ने किया कलात्मक प्रदर्शन

  • कक्षा में टॉप करने वाले 10 स्टूडेंट्स हुए सम्मानित।
  • सभी क्षेत्रों में शानदर प्रदर्शन करने पर सोलन शर्मा और उत्सव राजपूत का हुआ सम्मान।
  • डीजीपी ने स्कूल के ऑडिटोरियम की जमकर तारीफ की।

रायपुर: श्री रावतपुरा सरकार इंटरनेशनल स्कूल धनेली के वार्षिकोत्सव “भारतियम” में बच्चों ने नवरस थीम पर हिंदी साहित्य के प्रमुख नौ रसों का कलात्मक प्रदर्शन किया। स्कूली बच्चों ने वीर रस, भक्ति रस, अद्भुत रस, हास्य रस, श्रृंगार रस, भयानक रस, रौद्र रस, शांत रस और करुण रस की प्रस्तुति नृत्य के माध्यम से दी। बच्चों के ऐसे अनोखे नृत्य-प्रदर्शन को देखकर अभिभावक झूम उठे। वहीं देशभक्ति आधारित गीतों पर बच्चों की प्रस्तुति ने दर्शकों की आंखें नम कर दीं।

एसआरआई स्कूल के वार्षिकोत्सव कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्य के पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी रहे। जबकि राज्य के पूर्व आईएएस अधिकारी बीकेएस रे कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। पूर्व पुलिस महानिदेशक राजीव माथुर कार्यक्रम के अतिविशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहे। श्री रावतपुरा सरकार ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूशन के उपाध्यक्ष डॉ. जे. के. उपाध्याय ने अतिथियों का शॉल ओढ़ाकर एवं श्रीफल भेंटकर स्वागत किया। जबकि कार्यक्रम का सफल संचालन एसआरआई स्कूल के डायरेक्टर ग्रुप कैप्टन डॉ. अनिल शर्मा के द्वारा किया गया। इस अवसर पर शत-प्रतिशत अंक लाने वाले विद्यार्थियों को मुख्य अतिथि डीएम अवस्थी के द्वारा स्मृति चिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। खेल के क्षेत्र एवं स्कूल में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को भी स्मृति चिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

श्री रावतपुरा सरकार इंटरनेशनल स्कूल के वार्षिकोत्सव “भारतियम” में नवरस के नौ सांस्कृतिक रूपों का नृत्य के जरिये बच्चों ने किया कलात्मक प्रदर्शनवर्ष 2018-19 में अपनी कक्षा में टॉप करने वाले 10 बच्चों में करन शर्मा, मेघना सिंह, खदीजा अंसारी, शिविष्ट श्रीवास्तव, अरव अग्रवाल, आयुष कुमार सिंह, उत्सव राजपूत, सोनल शर्मा, नैंसी आहूजा और संतोषी पंजवानी शामिल रहे हैं। जबकि साल भर सभी क्षेत्रों में बेहतर करने वाले दो स्टूडेंट्स सोनल शर्मा और उत्सव राजपूत को विशेष तौर पर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पुलिस महानिदेशक श्री डीएम अवस्थी ने कहा कि शहर के किसी भी स्कूल में इतना बढ़िया ऑडिटोरियम उन्होंने नहीं देखा है, जितना कि शानदार ऑडिटोरियम एसआरआई स्कूल में बना हुआ है। उन्होंने कहा कि किसी भी स्कूल का वार्षिकोत्सव उस स्कूल और वहां के बच्चों के लिए एक पर्व की तरह होता है। वार्षिकोत्सव का मौका बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ अपनी दूसरी प्रतिभाओं को निखारने का मंच होता है। श्री अवस्थी ने इस दौरान महाराज श्री रावतपुरा सरकार से हुई अपनी पहली मुलाकात का संस्मरण सुनाया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि बीकेएस रे ने कहा कि रावतपुरा इंटरनेशनल स्कूल में सिर्फ किताबी ज्ञान ही नहीं बल्कि आध्यात्मिक ज्ञान भी मिलता है। स्कूल परिसर में आध्यात्मिक वातावरण है और ऐसा किसी अन्य स्कूल में देखने को नहीं मिलता है। उन्होंने बच्चों और स्कूल के उज्जवल भविष्य की कामना की। श्री राजीव माथुर ने कहा कि महाराज श्री रावतपुरा सरकार स्वयं बच्चों से बेहद लगाव रखते हैं। उन्होंने कहा कि एसआरआई स्कूल ने बेहद कम समय में शहर के प्रतिष्ठित स्कूलों के बीच अपनी जगह बनाई है और लगातार उपलब्धियां हासिल कर रहा है।

इस अवसर पर स्कूल के निदेशक ग्रुप कैप्टन डॉ. अनिल शर्मा ने धन्यवाद ज्ञापन दिया। उन्होंने कहा कि एसआरआई स्कूल तीन साल पहले ही खुला है और इतने कम समय में पालकों का विश्वास अर्जित करने में स्कूल कामयाब रहा है। उन्होंने कहा कि एसआरआई स्कूल लगातार छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य कर रहा है। पढ़ाई के अलावा यहां संगीत, नृत्य, क्राफ्ट, खेल, योग, कम्प्यूटर आदि सभी गतिविधियों से बच्चों को निरंतर जोड़ कर रखा जा रहा है। स्कूल के वार्षिकोत्सव को देखने के लिए बड़ी संख्या में पालक पहुंचे थे। पालकों से खचाखच भरे ऑडिटोरियम में कार्यक्रम के अंत में राष्ट्रगान किया गया। इस दौरान लगे वंदेमातरम् और भारत माता की जय के नारों से आसमान गूंज उठा। कार्यक्रम में स्कूल के समस्त टीचिंग- नॉन टीचिंग स्टाफ, संस्था के उप निदेशक (जनसंपर्क) माधो सिंह, महाराज श्री रावतपुरा सरकार की बहन, रावतपुरा आश्रम प्रबंधन कमेटी के सदस्य, स्कूल के सहायक प्रशासनिक अधिकारी गौरव शर्मा आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close