खेल

डीआरएम-कप 2020 मे विजेता टीम डब्ल्यू. आर. एस. टीम एवं उपविजेता मैकेनिकल टीम एवं तीसरे स्थान पर इलेक्ट्रिकल (ओपी) टीम रही

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे खेल संघ रायपुर मंडल द्वारा आयोजित अंतर विभागीय क्रिकेट प्रतियोगिता-डीआरएम कप 2020

रायपुर

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल में मंडल रेल प्रबंधक श्याम सुंदर गुप्ता द्वारा दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे खेल संघ रायपुर मंडल द्वारा आयोजित अंतर विभागीय क्रिकेट प्रतियोगिता डीआरएम कप – 2020 का भव्य शुभारंभ सेकरसा क्रिकेट स्टेडियम डब्ल्यू. आर. एस. कॉलोनी रायपुर 24 फरवरी 2020 को किया गया था।

डीआरएम कप का आयोजन सेकरसा क्रिकेट स्टेडियम डब्ल्यू आर एस कॉलोनी में विगत 16 वर्षो से किया जा रहा है वर्ष 2020 इस आयोजन का 17 वा संस्करण रहा। लीग पद्धति पर आयोजित इस प्रतियोगिता में कुल 18 ने भाग लिया। जिनके बीच 6 पुल बनाकर एक एक पूल में तीन तीन टीमों को बांटा गया। जिसके लिए कुल 18 मैच कराये गये उसके उपरांत सुपर सिक्स का निर्धारण कर उनके बीच भी लीग मैच कराया गया। उसके उपरांत सेमीफाइनल मैच एवं उसके पश्चात तीसरे स्थान हेतु मैच हुआ।

फाइनल मुक़ाबला 6 मार्च को डब्ल्यू. आर. एस.टीम एवं मैकेनिकल टीम के बीच हुआ मंडल रेल प्रबंधक श्याम सुंदर गुप्ता के कर कमलों से विजेता टीमों को व्यक्तिगत पुरस्कार एवं ट्रॉफियां प्रदान की गई। डीआरएम -कप 2020 मे विजेता टीम डब्ल्यू. आर. एस.टीम एवं उपविजेता मैकेनिकल टीम एवं तीसरे स्थान पर इलेक्ट्रिकल (ओपी) टीम रही टीमों को ट्रॉफियां प्रदान की गई।

अपर मंडल रेल प्रबंधक (इंफ्रा) श्रीमती दर्शनीता बी.आहलूवालिया और एडीआरएम ओपी अमिताव चौधरी के कर कमलों से भी कुछ पुरस्कार विजेताओं को बांटे गए। पुरस्कार वितरण समारोह में वरिष्ठ क्रीड़ा अधिकारी डॉ आर सुदर्शन, क्रीडा अधिकारी डॉ विपिन वैष्णव और मंडल के अन्य शाखा प्रमुख उपस्थित थे।

मंडल रेल प्रबंधक महोदय ने प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी खिलाड़ियों का हौसला अफजाई किया और जीतने वाली टीम को बधाई दी कहा कि यह मैच बहुत ही रोमांचक रहा अंत में एक की टीम जीती है। परंतु सभी टीमों का प्रयास बहुत ही सराहनीय रहा सब का प्रदर्शन बहुत ही अच्छा है बारिश की लुकाछिपी के बीच मैच आयोजित किया गया। इसके लिए सेकरसा टीम ने बहुत ही सराहनीय किया सुबह से शाम तक लगातार सेकरसा टीम लोग लगे रहते थे। इस मैच के आयोजन से खेल प्रतिभा के साथ टीम वर्क की भावना भी कर्मचारियों के मध्य जागृत हुई है जो बहुत ही हर्ष का विषय है।

इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल खेल अधिकारी डॉ आर सुदर्शन ने सैक्रेसा टीम को बधाई दी विजेता टीम डब्ल्यू आर एस टीम को बधाई दी और अच्छे प्रयासों के लिए मेकेनिकल टीम और इलेक्ट्रिकल टीम को भी बधाई दी। क्रीडा अधिकारी डॉ विपिन वैष्णव ने सभी के प्रति धन्यवाद प्रेषित किया।

• अंबिकेश गिरी को उनके आकर्षक बल्लेबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।
• डब्ल्यू आर एस के राजा को टूर्नामेंट का बेस्ट फील्डर का अवार्ड दिया गया।
• टूर्नामेंट के बेस्ट कैच का अवार्ड मैकेनिकल के दीपक प्रधान को प्राप्त हुआ।
• इलेक्ट्रिकल ओपीके पीयूष मिश्रा को सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर का पुरस्कार दिया गया।
• इंजीनियरिंग के सुरेश ने 14 विकेट लेकर टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ बॉलर का खिताब हासिल किया।
• डब्ल्यू आर एस के रूद्रमूर्ति एक अर्धशतकीय पारी की मदद से 140 रन बनाकर टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज का खिताब जीता।
• मेकैनिकल के विश्वदीप जयसवाल को उनके 14 छक्कों के लिए
• टूर्नामेंट का सबसे ज्यादा सिक्सर्स का अवार्ड दिया गया
• इलेक्ट्रिकल ओपी के मोहम्मद अजीज को उनके हरफनमौला प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार दिया गया।

फाइनल मैच की अंपायरिंग जितेंद्र वेगड और मुजाहिद हक ने की। राजेश प्रकाश ने स्कोरिंग की भूमिका निभाई। क्रीड़ा सचिव स्वर्ण सिंह कलसी और क्रिकेट इंचार्ज मोहम्मद तसलीम के दिशा निर्देशन से पूरा टूर्नामेंट सुचारू रूप से संपन्न हुआ। एल वी एस पी रेड्डी ने पूरे टूर्नामेंट का आंखों देखा हाल प्रस्तुत किया और उनका साथ बीके बारिक ने दिया। पुरस्कार वितरण समारोह का सफल संचालन एल वी एस पी रेड्डी द्वारा किया गया।

फाइनल मुक़ाबले का विवरण

फाइनल मुक़ाबला 6 मार्च को डब्ल्यू. आर. एस.टीम एवं मैकेनिकल टीम के बीच हुआ। मैकेनिकल ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया। निर्धारित 12 ओवरों में मैकेनिकल ने 7 विकेट के नुकसान पर 89 रन बनाए। जावेद के शून्य में आउट होने के पश्चात भुजंग राव और योगेश निषाद ने पारी को संभाला। भुजंग राव ने 14 रनों की पारी खेली। योगेश निषाद ने 19 रन बनाए। उनके आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए विश्वजीत और अजय प्रजापति ने टीम के स्कोर को आगे बढ़ाया। विश्वदीप ने आउट होने के पूर्व 17 गेंदों पर दो छक्कों की मदद से 26 रन बनाए। वही अजय प्रजापति ने 18 गेंदों पर 21 रनों की उपयोगी पारी खेली। अंतिम ओवरों में डब्ल्यू आर एस की कसावट भरी गेंदबाजी के सामने मैकेनिकल के बल्लेबाज नतमस्तक हो गए। एक समय जो स्कोर 100 के आंकड़े को पार करता नजर आ रहा था वह 89 पर सिमट गया। भारत के बृजेश पांडे ने दो सफलता हासिल की। साईं को एक विकेट मिला। वही कमालुद्दीन कुरैशी ने 3 विकेट हासिल किए। 90 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी डब्ल्यू आर एस की टीम के सलामी बल्लेबाज हरप्रीत के शून्य पर आउट होने के पश्चात चिन्ना को भी मैकेनिकल ने सस्ते में आउट कर दिया। कप्तान रवि राजा ने रूद्र मूर्ति के साथ मिलकर पारी को संभाला। मूर्ति ने 18 रनों का योगदान दिया। 25 रनों के व्यक्तिगत स्कोर पर 59 के योग पर राजा के आउट होने के पश्चात डब्ल्यू आर एस की टीम संकट में आ गई। इस वक्त बृजेश पांडे के साथ मिलकर अंबिकेश गिरी ने टीम के नेतृत्व को संभाला और डब्ल्यू आर एस को जीत दिला दी। बृजेश पांडे ने 11 रनों का योगदान दिया। अंबिकेश गिरी ने 8 गेंदों पर चार छक्कों की मदद से 27 रन बनाकर मैकेनिकल के हाथ से जीत को छीन लिया। इस प्रकार 3 गेंदें शेष रहते डब्ल्यू आर एस ने 5 विकेट से इस मैच को जीतकर डीआरएम कप 2020 पर कब्जा किया। कमल कांत साहू ने 3 विकेट हासिल किए। विक्की पॉल और योगेश निषाद को एक-एक विकेट प्राप्त हुआ।


यह भी पढ़ें: रायपुर रेल मंडल की महिला खिलाडियों के मध्य क्रिकेट मैच मे विजेता सीनियर डीएफएम -11 टीम एवं उप विजेता डीपीओ -11 टीम रही


 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close