खेल

Ind vs Aus: टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला ड्रा, यहाँ देखें लेटेस्ट प्वॉइंट टेबल…

नई दिल्ली. भारत और मेजबान ऑस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मुकाबला सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया. सोमवार 11 जनवरी को मुकाबले का आखिरी दिन था. ये दिन काफी दिलचस्प रहा. पहले सत्र की शुरुआत में ऑस्ट्रेलियाई टीम आगे दिख रही थी, लेकिन पहले सत्र के खत्म होने के बाद ड्राइविंग सीट पर भारतीय टीम थी.

एक समय ऐसा लग रहा था कि भारत ये मुकाबला जीत सकता है, लेकिन दूसरे सत्र में जैसे ही रिषभ पंत और चेतेश्वर पुजारा के विकेट गिरे तो फिर भारत ने इस मैच में हार टालने की ठानी. भारत के 5 विकेट गिर चुके थे. क्रीज पर हैमस्ट्रिंग से जूझ रहे हनुमा विहारी और आर अश्विन थे. दोनों ने करीब 250 गेंदों का सामना किया, लेकिन विकेट नहीं गंवाया. इसी के दम पर भारत ने मुकाबला ड्रॉ कराया.

पुजारा के नाम जुड़ी खास उपलब्धि, सचिन-द्रविड़ के क्लब में जुड़े

ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 338 रन बनाए थे और दूसरी पारी छह विकेट पर 312 रन बनाकर समाप्त घोषित की। भारत ने पहली पारी में 244 रन बनाए थे। रोमांच की पराकाष्ठा पर पहुंचे इस मैच के ड्रॉ होने के बाद चार मैचों की सीरीज 1-1 से बराबरी पर है। अब ब्रिसबेन में 15 जनवरी से शुरू होने वाला चौथा और अंतिम टेस्ट मैच निर्णायक बन गया है। सिडनी मैच के ड्रॉ रहने पर वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के प्वॉइंट टेबल में दोनों टीमों के खाते में 10-10 प्वॉइंट्स जुड़े हैं।

देखें वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप का लेटेस्ट प्वॉइंट टेबल-

टीम M W L D Series PT % PCT
ऑस्ट्रेलिया 13 8 3 2 4 332 73.8%
भारत 12 8 3 1 5 400 70.2%
न्यूजीलैंड 11 7 4 0 5 420 70.0%
इंग्लैंड 15 8 4 3 4 292 60.8%
दक्षिण अफ्रीका 9 3 6 0 3 144 40.0%
पाकिस्तान 10 2 5 3 4.5 166 30.7%
श्रीलंका 6 1 6 1 3 80 22.2%
वेस्टइंडीज 7 1 6 0 3 40 11.1%
बांग्लादेश 3 0 3 0 2 0 0.000

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट्स का क्या सिस्टम है-

दरअसल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के प्वॉइंट सिस्टम के मुताबिक दो मैचों की सीरीज में जीतने पर 60 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 30 प्वॉइंट्स और ड्रॉ के 20 प्वॉइंट्स मिलेंगे, जबकि हारने पर एक भी प्वॉइंट नहीं होगा। कितने भी मैचों की सीरीज हो हारने वाली टीम को कोई प्वॉइंट नहीं मिलेगा। वहीं तीन मैचों की सीरीज में जीतने पर 40 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 20 प्वॉइंट्स और ड्रॉ होने पर 13 प्वॉइंट्स होंगे।

चार मैचों की सीरीज में जीतने वाली टीम को 30 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 15 प्वॉइंट्स और मैच ड्रॉ होने पर 10 प्वॉइंट्स होंगे। जबकि पांच मैचों की सीरीज में जीतने पर 24 प्वॉइंट्स, टाई होने पर 12 प्वॉइंट्स और ड्रॉ होने पर आठ प्वॉइंट्स होंगे। (टाई और ड्रॉ होने पर दोनों टीमों के एक जैसे प्वॉइंट्स मिलेंगे।)

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close