देश

स्वतंत्रता दिवस: अनुच्‍छेद-370 का जिक्र, पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को लाल किले से राष्‍ट्र को संबोधित करते हुए अनुच्‍छेद-370 का जिक्र किया, साथ ही साथ विपक्ष को भी निशाने पर लिया

नई दिल्‍ली: 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को लाल किले से राष्‍ट्र को संबोधित करते हुए अनुच्‍छेद-370 का जिक्र किया, साथ ही साथ विपक्ष को भी निशाने पर लिया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत में बाढ़ से जूझ रहे इलाकों के प्रति संवेदना जताई। उन्‍होंने जल संरक्षण की आवश्यकता और उसकी प्रतिबद्धता को दोहराया और कहा कि जल संरक्षण की दिशा में सरकार को अगले चार साल में बहुत काम करना है। यही नहीं उन्‍होंने आतंकवाद के मसले पर बिना नाम लिए पाकिस्‍तान पर भी जमकर हमला बोला।आइये जाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण की दस बड़ी बातें…

प्रधानमंत्री ने बिना नाम लिए पाकिस्‍तान पर भी करारा हमला बोला। आज दुनिया के किसी ना किसी हिस्‍से में किसी ना किसी रूप में आतंक का साया मंडरा रहा है। मौजूदा वक्‍त में विश्व शांति के लिए भारत को अपनी भूमिका निभानी ही होगी। आतंकवाद के मुद्दे पर देश मूकदर्शक नहीं बना रह सकता है। भारत आतंकवाद फैलाने वालों के खिलाफ मजबूती से लड़ रहा है। मानवतावादी शक्तियों को मिलकर आतंकवाद को पनाह देने वाली, प्रोत्साहन देने वाली, निर्यात करने वाली ताकतों को बेनकाब करना होगा। कुछ लोगों ने भारत ही नहीं, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, श्रीलंका जैसे पड़ोसी मुल्‍कों को तबाह कर रखा है। श्रीलंका में तो चर्च में बैठे निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। यह कितना भयावह है…

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे सैनिकों, हमारे सुरक्षाबलों और सुरक्षा एजेंसियों ने बहुत सराहनीय काम किया है। हमारा मकसद आतंकवाद और हिंसा का मौहाल बनाने वालों को नेस्तानाबूत करना है। आज तेजी से बदल रही दुनिया में युद्ध के तरीके भी तेज गति से बदल रहे हैं। ऐसे में भारत को टुकड़ों में सोचने से काम नहीं चलेगा। हमारी सेना को भी एकजुट और एक साथ बढ़ना होगा। आज मैं महत्वपूर्ण घोषणा करता हूं। अब हम चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ की व्यवस्था करेंगे। इस पद का गठन होने से तीनों सेनाओं के शीर्ष स्तर पर एक प्रभावी नेतृत्व मिलेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्‍मू-कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 को हटाने का विरोध कर रही कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि हम समस्‍याओं को टालते नहीं हैं। सरकार बनने के 70 दिन के भीतर ही हमने 370 को हटाया। हमारी सरकार ने जो काम 70 साल में नहीं हुआ था उसे 70 दिन के भीतर किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी मुस्लिम बेटियों के सिर पर तीन तलाक की तलवार लटकी थी। उन्‍हें इस बात का हमेशा डर बना रहता था कि वे कभी भी तीन तलाक का शिकार हो सकती हैं, यह भय उन्‍हें जीने नहीं देता था। कई इस्लामिक देशों ने इस कुप्रथा को हमसे कई पहले खत्म कर दिया था। हम यदि बाल विवाह, सती प्रथा, दहेज प्रथा के खिलाफ कठोर कदम उठा सकते हैं, तो तीन तलाक के खिलाफ कदम क्‍यों न उठाएं। ये निर्णय राजीतिक तराजू से तौलने वाले नहीं होते हैं।

प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार और भाई भतीजावाद के खिलाफ भी हमला बोला। प्रधानमंत्री ने कहा कि इन दोनों बुराइयों ने हमारे देश को काफी नुकसान पहुंचाया है। भ्रष्‍टाचार हमारे जीवन में दीमक की तरह घुस गया है। हमारी सरकार भ्रष्‍टाचार खत्‍म करने की लगातार कोशिश कर रही है। हमें सफलताएं भी मिली हैं, लेकिन बीमारी इतनी गहरी है कि हमें अपनी कोशिशों को और बढ़ाना होगा। इस साल आते ही सरकार में बैठे बडे़-बड़े लोगों की छुट्टी कर दी गई, जो सरकार के इस काम में बाधा बनते थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में बेतहाशा जो जनसंख्या विस्फोट हो रहा है, यह जनसंख्या विस्फोट हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए अनेक संकट पैदा कर रहा है। देश का जागरूक वर्ग तो इस बात को भली भांति समझता है। वह अपने घर में शिशु को जन्म देने से पहले भली भांति सोचता है कि मैं उसके साथ न्याय कर पाऊंगा। छोटा परिवार को रखकर वह देशभक्ति को अभिव्यक्त करता है। यह वर्ग सम्मान का अधिकारी है।

73वें स्वतंत्रता दिवस (73rd Independence Day) के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने भारत को प्लास्टिक प्रदूषण से मुक्त करने की बड़ी घोषणा की है। साथ ही देश की जनता और खासतौर पर दुकानदारों-व्यापारियों से इस दिशा में योगदान देने की अपील की। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस दो अक्टूबर से क्या हम सिंगल यूज थैली से देश को मुक्त करने की शुरुआत कर सकते हैं। दुकानदार अपनी शॉप पर कई तरह के बोर्ड लगाते हैं। अब वह एक बोर्ड और लगाएं कि ग्राहक हमसे प्लास्टिक बैग की इच्छा न करें। इस बार लोग दीवाली पर भी एक दूसरे को कपड़े का थैला उधार दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने सबसे पहले अनावश्‍यक कानूनों को खत्म किया। हमने पांच वर्षों में हर दिन के हिसाब से एक गैरजरूरी कानून खत्‍म किए हैं। हमें लोगों को बताना होगा कि देश में अब तक 1450 कानून खत्म किए जा चुके हैं। अभी हाल के 10 हफ्तों में हमनें 60 गैरजरूरी कानून खत्‍म किए हैं। अनुच्छेद 370, 35A को हटाने का काम भी लोकसभा और राज्यसभा ने दो तिहाई बहुमत से खत्म कर दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने पांच ट्रिलियन डॉलर का सपना देखा है बहुत से लोगों को वो असंभव लग रहा होगा। लेकिन हम मुश्किल काम नहीं करेंगे तो देश आगे कैसे बढ़ेगा। मनोवैज्ञानिक नजरिये भी हमें हमेशा ऊंचे निशान रखने चाहिए। हमने है, लेकिन वह हवा में नहीं है। हम 70 साल में दो ट्रिलियन डॉलर इकॉनमी तक पहुंचे। 2014-2019 में हम दो से तीन ट्रिलियन हो गए। यदि साल में इतना बड़ा जंप लगाया तो हम आने वाले पांच साल में पांच ट्रिलियन डॉलर बन सकते हैं। हर देशवासी का यही सपना होना चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपने साल 2014 से 2019 तक पांच साल सेवा करने का मौका दिया। कुछ चीजें थी, आम लोग निजी आकांक्षाओं के लिए जूझ रहे थे। अब हमने लोगों की जरूरत को पूरा करने पर बल दिया है। यदि 2014-19 आवश्यकताओं को पूरा करने का वक्‍त था तो यह समय उनके सपनों को साकार करने का है। हमने अगले पांच वर्षों के लिए खाका तैयार कर लिया है। हम हर हाल में इसे करके रहेंगे। पीएम ने कहा कि नई सरकार को 10 हफ्ते भी नहीं हुए हैं, इस छोटे से कार्यकाल में सभी क्षेत्रों में हर प्रयास को बल दिए गए हैं, हम पूरे समर्पण के साथ सेवारत हैं।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close