स्वास्थ

शोध में पाया गया है कि, भारतीय घरों में किचन के कपड़े सबसे गंदे

शोध में पाया गया है कि, भारतीय घरों में किचन के कपड़े सबसे गंदे नई दिल्ली: एक शोध में पाया गया है कि भारत में 100 प्रतिशत किचन के कपड़े सबसे ज्यादा प्रदूषित होते हैं और भारतीय घरों में पाया जाने वाला सबसे गंदा आइटम है। इसे देखते हुए रेकिट बेंकाइजर (आरबी) के ब्रांड लाइजॉल ने `लाइजॉल किचन, हेल्दी किचन` की घोषणा की। कंपनी ने एक बयान में कहा कि लाइजॉल ने किचन पावर क्लीनर के विज्ञापन के लिए भारतीय शेफ विकास खन्ना को अपना ब्रांड एंबेस्डर बनाया है। उनका लक्ष्य कीटाणु मुक्त किचन के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाना और भारत को वास्तव में स्वस्थ जीवन के लिए सही विकल्प उपलब्ध कराना है। लाइजॉल किचन पावर क्लीनर ओरेंज रस्ट वेरिएंट के 450 मिली पैक की कीमत 129 रुपये और 250 मिली पैक की कीमत 79 रुपये होगी।

रणनीतिक अनुसंधान परामर्शदाता इनसाइट के सर्वेक्षण में पाया गया है कि 98 प्रतिशत भारतीय अपने घर में कीटाणुओं की उपस्थिति और उनसे होने वाले खतरों के बारे में जानते हैं, हालांकि 62 प्रतिशत लोग इन कीटाणुओं के बारे में चिंतित तो हैं, लेकिन वे अपने परिवारों की रक्षा के लिए कीटाणु नाशक समाधान नहीं चाहते हैं। 42 प्रतिशत घर के विभिन्न सतहों पर कीटाणुओं को खत्म करने के लिए सामान्य सफाई एजेंट के रूप में फिनाइल और डिटर्जेट का उपयोग करते हैं।

दक्षिण एशिया आरबी हाइजीन होम के मार्केटिंग डायरेक्टर सुखलीन अनेजा ने कहा, `अपने परिवार के लिए स्वस्थ भोजन तैयार करने के लिए महिलाएं अपना अधिकांश समय किचन में व्यतीत करती हैं लेकिन वे कीटाणु जनित अनदेखी बीमारियों से अनभिज्ञ होती हैं, जो चारों ओर फैले होते हैं। हमें उम्मीद है कि लाइजॉल किचन पावर क्लीनर लोगों पसंद आएगी।`
Source: Agency

</>

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close